Robot Part 2 Ullu Web Series Review In Hindi | Robot Part 2 Web Series Hindi Review

Robot Part 2 Ullu Web Series Review In Hindi

आज हम जिस वेब सीरीज की बात करने जा रहे हैं इस वेब सीरीज का पार्ट वन कुछ ही समय पहले 24 दिसंबर 2021 को रिलीज हुआ था जिसका नाम है रोबोट, अब 31 दिसंबर 2021 को इस Robot Part 2 Ullu Web Series रिलीज होने वाला है जिसमें आपको पार्ट वन के आगे की कहानी दिखाई जाएगी आज हम इसी Robot Part 2 Ullu Web Series Review In Hindi लेकर आए हैं जिसमें हम आपको इस वेब सीरीज की पूरी जानकारी देंगे

Robot Part 2 Ullu Web Series का ट्रेलर 26 दिसंबर 2021 को उल्लू के ऑफिसियल यूट्यूब चैनल पर रिलीज किया गया था जिसे ये रिव्यू लिखे जाने तक 2 लाख से ज्यादा लोगों ने देखा तथा 5 हजार लोगों ने पसंद किया था इस वेब सीरीज के ट्रेलर को काफी अच्छा रिस्पांस मिला है अब देखना यह होगा कि Robot Part 2 Web Series को कैसा रिस्पांस मिलता है

Robot Part 2 Ullu Web Series Story In Hindi

Robot Part 2 Ullu Web Series Story इस वेब सीरीज में आपको पार्ट वन से आगे की कहानी दिखाई जाएगी जहां पर पार्ट वन की समाप्ति हुई थी Robot Part 2 में आगे वही से दिखाया जाएगा कि आगे इस वेब सीरीज में क्या होगा इसलिए अगर आप इस वेब सीरीज की पूरी कहानी को जानना चाहते हैं तो पहले आप इस वेब सीरीज को शुरू से देखें फिर आपको इस वेब सीरीज की कहानी अच्छे से समझ आ जाएगी

गुड़िया थी बेजान, या अरमानों का समंदर था, हर एक खड़ा था राह में, पर कोई और ही बसा उसके मन के अंदर था

MovieRobot Part 2
LanguageHindi
Release31/12/2021
CategoryWeb Series
PlatformUllu

दोस्तों मेरा नाम हरजिंदर सिंह है मैं इस वेबसाइट पर रिव्यू लिखता हूं मैं उम्मीद करता हूं कि आपको मेरे द्वारा लिखा गया रिव्यू समझ आता होगा और आप इसे आसानी से पढ़ भी लेते होंगे अगर आपको मेरे द्वारा लिखे गए रिव्यू में कोई कमी या कोई गलती लगती है तो आप मुझे ईमेल कर सकते हैं या कमेंट में बता सकते हैं मैं जल्द ही उस कमी या गलती को सुधारने की कोशिश करूंगा  

ये भी पढ़े – Best South Indian Movies Dubbed In Hindi

आपको हमारा यह Robot Part 2 Ullu Web Series Review In Hindi कैसा लगा आप हमें कमेंट या ईमेल के माध्यम से बताएं और अगर आप हमारी इस वेबसाइट के बारे में कोई सुझाव देना चाहते हैं तो भी आप हमें ईमेल कर सकते हैं

Disclaimer: wbseries.com does not promote or support piracy of any kind. Piracy is a criminal offence under the Copyright Act of 1957. We further request you to refrain from participating in or encouraging piracy of any form.

Rate this post

Leave a Comment